Join Telegram Group (18k members) यहाँ क्लिक करें और जुड़िये
Instagram @reet.bser2022 अभी फॉलो कीजिए

Reet 2021 Level 2, Reet 2022 को लेकर कुछ सवाल जवाब

राजस्थान में REET लेवल-2 भर्ती परीक्षा रद्द करने के बाद भी विवाद जारी है। विपक्ष जहां सड़क से लेकर सदन तक सरकार को घेरने की तैयारी में जुटा हुआ है, वहीं सरकार नई भर्ती प्रक्रिया शुरू कर विवाद को कम करने की कोशिश में जुटी हुई है।

इस पूरी प्रक्रिया की वजह से प्रदेश के लाखों अभ्यर्थी REET को लेकर असमंजस की स्थिति में है। शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला से REET विवाद से जुड़े हर उस सवाल का जवाब जानने की कोशिश की। जो आम छात्र के लिए जानना बेहद जरूरी है।

सवाल- क्या रीट लेवल-2 के बाद लेवल-1 की परीक्षा भी रद्द हो सकती है?

जवाब– राजस्थान में रीट लेवल-1 का पेपर आउट नहीं हुआ है, इसलिए लेवल-1 का पेपर रद्द नहीं होगा। इसके साथ ही अब तक किसी भी अभ्यर्थी ने लेवल-1 को लेकर कोई शिकायत भी दर्ज नहीं करवाई है। ऐसे में जिन भी अभ्यर्थियों ने लेवल-1 का पेपर दिया है और वह उसमें पात्र हुए हैं। वह सभी लेवल-1 की भर्ती प्रक्रिया में शामिल हो सकेंगे। इसके बाद सरकार अगले कुछ दिनों में ही अभ्यर्थियों की काउंसलिंग कर उन्हें नियुक्ति देगी।

सवाल- आरोप लगा रहे हैं कि लेवल-1 का पेपर भी आउट हुआ है, लेकिन सरकार लेवल-2 की तरह लेवल-1 के पेपर को भी लीक क्यों नहीं मान रही है?

जवाब– रीट परीक्षा को लेकर स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) की रिपोर्ट आ गई है। जिसके आधार पर लेवल-1 का पेपर आउट नहीं हुआ है। सिर्फ लेवल-2 का पेपर कुछ लोगों के बीच आउट हुआ था, लेकिन चुनिंदा लोगों के बीच पेपर पहुंचने के कारण आम जनता में धारणा बन गई थी। जनता चाहती थी कि लेवल-2 की परीक्षा रद्द होनी चाहिए। ऐसे में जनता की इच्छा के अनुरूप ही लेवल-2 की परीक्षा को रद्द किया गया है।

सवाल रीट 2022 किस तरीक़े से आयोजित की जाएगी , इसमें लेवल 1 or level 2 के पद किस प्रकार आएँगे

वहीं अब मुख्यमंत्री ने शिक्षक भर्ती परीक्षा के पदों की संख्या में बढ़ोतरी की है। इसके बाद राजस्थान में कुल 62,000 पदों पर शिक्षकों की भर्ती की जाएगी।

इसमें लेवल-1 के 15,000 पदों की नियुक्ति होने के बाद 47000 नए पदों पर भर्ती शुरू होगी। इसमें दो चरणों में परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। जिसमें पहली परीक्षा सिर्फ पात्रता के लिए होगी, जबकि दूसरी परीक्षा सब्जेक्ट के अनुसार आयोजित की जाएगी। इसमें 90% नंबर रीट परीक्षा और 10% अंक उसके एकेडमिक इंडेक्स के आधार पर देखें जाएंगे। सरकार भविष्य में इसी आधार पर अभ्यर्थियों का सिलेक्शन करेगी।

सवाल- क्या लेवल-1 के अभ्यर्थियों को भी नियुक्ति के लिए कोई और परीक्षा देनी होगी, सरकार कितने महीने में लेवल-1 के अभ्यर्थियों की नियुक्ति देगी?

लेवल-1 के अभ्यर्थियों को फिलहाल कोई परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी। उनका परिणाम जारी हो गया है। उसी आधार पर उनकी नियुक्तियां की जाएगी। फिलहाल लेवल-1 के लिए 9 फरवरी तक आवेदन प्रक्रिया जारी है। इसके बाद शिक्षा विभाग काउंसलिंग कर उन्हें नियुक्ति देगा।

सवाल- REET लेवल-2 के साथ ही बढ़ाए गए पदों पर भर्ती परीक्षा का आयोजन कब तक होगा, शिक्षक भर्ती परीक्षा के लिए विज्ञप्ति कब जारी होगी?

जवाब- रीट भर्ती परीक्षा में हुई धांधली के बाद मुख्यमंत्री ने रिटायर्ड जज व्यास जी की अध्यक्षता में तीन सदस्यों की कमेटी बनाई है। जो अगले 45 दिनों में प्रतियोगी परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। उसी रिपोर्ट के आधार पर भर्ती परीक्षाओं में नकल पर नकेल कसने के लिए कानून बनाया जाएगा। इसके साथ ही नई भर्ती परीक्षा की विज्ञप्ति भी जारी कर दी जाएगी।

क्या सरकार रीट की CBI जांच सौंपेगी?

लेवल-2 का पेपर आउट हुआ। सरकार ने उस परीक्षा को रद्द कर दिया है। अब जब लेवल-1 में किसी तरह की धांधली नहीं हुई, तो उस पेपर को क्यों रद्द किया जाए। SOG जांच कर रही है, इसलिए हम CBI को जांच नहीं सौपेंगे। हमें किसी के कहने से कोई फर्क नहीं पड़ता। यूपी, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश जैसे राज्यों में भी भर्ती परीक्षाएं रद्द हो चुकी हैं। सिर्फ राजस्थान ही नहीं बल्कि पूरे देश में कुछ लोगों ने भर्ती परीक्षाओं के पेपर को लीक करने का गोरखधंधा बना रखा है। जिनके खिलाफ सख्त से सख्त कानून बनना चाहिए। ताकि भविष्य में भर्ती परीक्षाओं में होने वाली धांधली पर अंकुश लगाया जा सके।

रीट लेवल 2 रद्द होने के बाद छात्रों में निराशा है। आपको नहीं लगता जिन बच्चों ने मेहनत की उनके साथ अन्याय हुआ है?

काफी बच्चों के मेरे पास भी फोन और मैसेज आए थे। बच्चे चाहते थे कि भर्ती परीक्षा रद्द ना हो, लेकिन कुछ लोगों के बीच पेपर आउट हुआ। इसके बाद जनता में माहौल बन गया कि पेपर दोबारा होना चाहिए। इसलिए सरकार ने पेपर रद्द किया है। मुझे लगता है कि जो बच्चे मेहनती हैं, वह तो फिर से अच्छे नंबर से पास हो जाएंगे। सिर्फ कुछ महीनों की बात है। 6 महीने बाद उन्हें फिर से रोजगार मिल जाएगा।

राजस्थान में 62,000 पदों पर शिक्षकों को कब तक नियुक्ति मिल पाएगी?

लेवल-1 के 15,000 अभ्यर्थियों को अगले कुछ दिनों में ही काउंसलिंग होते ही नियुक्ति दे दी जाएगी। वहीं अप्रैल तक शेष पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। जुलाई से अगस्त तक परीक्षा का आयोजन होगा। इसके बाद इसी साल परिणाम जारी करने के साथ ही काउंसलिंग कर 62 हजार पदों पर अभ्यर्थियों की नियुक्ति भी कर दी जाएगी।

please share this post with your friends.