Join Telegram Group (18k members) यहाँ क्लिक करें और जुड़िये
Instagram @reet.bser2022 अभी फॉलो कीजिए

REET 2021 – 28 जनवरी 2022 की सभी खबरें,reet paper leak case

Read Now

रीट 2021 को लेकर दैनिक भास्कर की सभी खबरें

दैनिक भास्कर में आज विस्तृत रूप से रेट 2021 भर्ती में हुई धांधली को कवर किया गया है, नीचे दी गई पोस्ट में आप इसे समझ सकते हैं।

16 लाख अभ्यर्थियों का एक सवाल, सीबीआई जांच क्यों नहीं

विज्ञप्ति जारी होने के बाद रिजल्ट जारी होने तक विवादों में रीट रही, इसके बाद आज एसओजी की मीटिंग के बाद इस परीक्षा में नकल होने की पुष्टि भी हो गई। साथ ही इस भर्ती में करीब 7 सेंटर पर पेपर पहले ही लीक हो गया था। भजनलाल बिश्नोई के साथ-साथ राम कृपाल मीणा और उदय राम बिश्नोई को तो गिरफ्तार कर लिया गया है बत्ती लाल मीणा पहले से ही पकड़ में है साथ ही डीपी जो रैली द्वारा जयपुर जिले में कोऑर्डिनेटर अपने नजदीकी प्रदीप पाराशर को बनाने पर विवाद खड़ा हुआ है जबकि वह तो बोर्ड में कार्य नहीं था, दिसंबर 2019 में इस भर्ती की घोषणा होने के बाद 5 बार इस भर्ती को लंबित किया गया, आखिरकार 26 सितंबर 2021 को पेपर होने के बाद इस भर्ती में हुई धांधली का खुलासा हुआ

रीट 2021 भर्ती में आरोपों से घिरे रहे डीपी जरौली ने भास्कर को बताया कि यदि उन पर गोपनीयता को भंग करने का आरोप सिद्ध हो जाए तो वह इस पद को छोड़ देंगे, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष के द्वारा यह दावा 4 अक्टूबर 2021 को किया गया था।

आरोपियों को एसओजी ने पकड़ लिया है उन्होंने कहा से प्रश्नपत्र लिया और कहां से आंसर की निकाली किस परीक्षा केंद्र पर कितने बुकलेट गई कितनी उपयोग में आई और कितनी रिजर्व रही इस बात की सारी जानकारी एसओजी को दे दी गई है अब दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा और जो अभ्यर्थी पकड़े गए हैं उनके सबूत उनके पास होंगे।

प्रदीप पाराशर, जोकि जयपुर जिला कोऑर्डिनेटर और डीपी जारोली के नजदीकी माने जा रहे हैं उनसे भी एसओजी के द्वारा कई सवाल किए गए, उन्होंने इस पूछताछ में बताया कि वह निर्दोष है। रीट एग्जाम से पहले भी उन्होंने कई एग्जाम करवाए थे, यह दवा उन्होंने एसओजी से किया है।

यदि रीट 2021कापेपर लिक मान लिया जाता है तो फिर परीक्षा कब होगी?

यदि सरकार द्वारा इस पेपर को लीक मान लिया जाता है तो फिर यह पेपर कब होगा इसको लेकर अभी कोई टाइम लाइन पर नहीं है। दिसंबर 2021 तक फिर से आयोजन संभव हो सकता है। मार्च में बोर्ड परीक्षाओं के बाद बोर्ड के पास काफी समय रहेगा।

रीट 2022, के मई में होने की पहले से घोषणा हो रखी है उसका क्या होगा?

20000 पदों के लिए 14 15 मई 2022 को रीट की घोषणा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा की गई थी। यदि रीट 2021 भर्ती रद्द होती है तो मई वाली रेट को आगे आयोजित करना पड़ेगा, हो सकता है 1 सप्ताह या 1 महीने के अंतराल में दोनों भर्तियों को आयोजित करवा लिया जाए।

यदि सरकार पेपर लीक नहीं मानती और पेपर रद्द नहीं करती तो क्या होगा

यदि सरकार इस रीट भर्ती को रद्द नहीं करती है तो 32000 पदों पर चल रही आवेदन की प्रक्रिया जारी रहेगी एवं 9 फरवरी 2022 के बाद सरकार जल्दी की नियुक्ति की प्रणाली शुरू कर सकती है।

रीट का पेपर किस तरीके से लिया गया इसको आप अपने डायग्राम से समझ सकते हैं

मेरे पास पेपर लीक की कोई सूचना नहीं आई

पेपर लीक मामले की एसओजी की जांच की रिपोर्ट अभी तक मेरे पास नहीं आई है इसीलिए मैं इस मामले में अभी कुछ भी नहीं कर सकता, एसओजी पहले गृह विभाग को इसकी जानकारी मिलेगीबीडी कल्ला शिक्षा मंत्री

जारोली और पाराशर ने शिक्षा संकुल में पार्टी की

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष जारोली और कोऑर्डिनेटर पाराशर को पूछताछ करके गिरफ्तार किया जाना चाहिए, उन्होंने शिक्षा संकुल में मिलकर पार्टी की थी, साथ ही चार निजी कर्मचारी मौखिक रूप से लगाए। डॉ किरोड़ी लाल मीणा, राज्यसभा सांसद

रीट 2021 को लेकर राजस्थान पत्रिका की सभी खबरें

आज राजस्थान में राजस्थान पत्रिका में रीट 2021 भर्ती को लेकर बड़े खुलासे किए गए हैं एवं शिक्षा संकुल से रीट के पेपर निकलने को हाइलाइट किया गया है। खबर के अनुसार बुधवार को इस मामले में बड़ा खुलासा किया गया, इस खबर के अनुसार 25 सितंबर 2021 को शिक्षा संकुल स्थित पेपर संग्रहण केंद्र से पेपर निकाला गया। मुख्य अभियुक्त भजनलाल बिश्नोई को उदाराम बिश्नोई और गोपालपुरा बायपास में रह रहे राम कृपाल मीणा को गिरफ्तार कर चुकी है, पूछताछ में यह भी मालूम चला है कि भजनलाल ने 4000000 रुपए में रीट 2021 का पेपर अभ्यर्थियों को भेजा था। इसके बाद इस पेपर को 10 से 1200000 रुपए में भेजा गया।

रीट पेपर लीक मामले में एसओजी ने बड़ा खुलासा किया है, शिक्षा संकुल सही पेपर चोरी हुआ इस बात का दावा किया गया है

एक कॉलेज संचालक राम कृपाल मीणा ने 26 सितंबर को होने वाली रेट से 2 दिन पहले 24 सितंबर की रात को शिक्षा संकुल से पेपर को चोरी किया। राम विश्नोई ने 25 सितंबर 2021 को सुबह एक साथ राजस्थान में सात जगह पर पहुंचे हैं। लगभग 5 करोड रुपए में यह सौदा तय हुआ।

गुरुवार को रीट पेपर लीक मामले में गिरफ्तार आरोपियों को गंगापुर के न्यायालय में पेश किया गया जहां से उदय राम विश्नोई राम कृपाल मीणा और भजनलाल बिश्नोई को 31 जनवरी तक रिमांड पर सौंपा गया, कोई विद्युत निगम के जेईएन राम लखन जाट और सहयोगी अमृतलाल मीणा को कोर्ट की हिरासत में भेजा गया।

माशिबो अध्यक्ष तक पहुची SOG की जांच

रीट पेपर लीक मामले में मुख्य आरोपी भजनलाल बिश्नोई की गिरफ्तारी के बाद एसओजी की जांच माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के मुख्य समन्वयक अध्यक्ष डीपी जारोली तक पहुंच गई है। एसओजी के अधिकारियों ने बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर जालोरी समेत पेपर के वितरण से जुड़े अधिकारियों और व्यवस्था के संबंध में जांच और दस्तावेज जुटाए हैं। एसओजी की टीम ने गुरुवार को भी सिविल लाइंस में स्थित रीट कार्यालय में बोर्ड के अध्यक्ष से जानकारी जुटाई, हालांकि इस मामले में अभी कोई खुलासा नहीं हुआ है।

रीट 2021 को लेकर दैनिक नवज्योति की सभी खबरें

रीट पेपर में sOG का खुलासा

जयपुर के शिक्षा संकुल से पेपर हुआ था लीक , अब तक कुल 35 आरोपियों को कर चुकी हैं गिरफ्तार ,

इस मामले में , बड़े प्रशानिक अधिकारी के होने की संभावना जताई हैं , किरोड़ी लाल मीणा ने ,

तीन महीने पहले ही बता दिया था पेपर लीक के मामले में , किरोड़ी लाल मीणा जी ने ।

एसओजी ने बोर्ड अध्यक्ष से की पूछताछ

पूछताछ में डीपी जरौली ने कहा कि पेपर लीक में यदि कोई बोर्ड का कर्मचारी पाया गया तो वह खुद ही इस्तीफा देंगे। एसओजी ने बोर्ड अध्यक्ष से प्रश्नपत्र की बुकलेट कहां कहां पर भेजी गई और कितनी भेजी गई इन मुद्दों पर जानकारी ली।

राजस्थान यूनिवर्सिटी में गुरुवार को एबीवीपी के प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन करके सरकार के खिलाफ नारेबाजी की, जिसका नेतृत्व राष्ट्रीय मंत्री होशियार मीणा ने किया। रेट सहित अनेक परीक्षा में सीबीआई की जांच की मांग को लेकर के विरोध हुआ था। छात्र जब उग्र हुए तो पुलिस द्वारा उनको खदेड़ दिया गया और कईयों को चोटें आई। राजस्थान यूनिवर्सिटी की के गेट से बाहर जेएलएन मार्ग जाम का प्रयास किया गया तो पुलिस ने दोनों गेट बंद कर दिए और छात्रों को समझाया नहीं मानने पर 5 छात्रों को हिरासत में लेकर बाद में छोड़ दिया गया।

रीट भर्ती में हुए खुलासे के बाद राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ ने दोषियों की संपत्ति जप्त कर सख्त कार्यवाही की मांग की है। उपेन यादव ने रीट भर्ती परीक्षा की सीबीआई जांच और पदों की संख्या बढ़ाकर 50,000 करने की मांग की है। राष्ट्रीय रोजगार संघ ने गुरुवार को शिक्षा संकुल और राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया और डीपी जरौली के इस्तीफे की मांग की। अखिल भारतीय राजस्थान विद्यालय शिक्षक संघ ने भी यही मांग की है।

आम आदमी पार्टी महिला शक्ति की प्रदेश अध्यक्ष कीर्ति पाठक ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को पत्र लिखकर एसओजी के रीट परीक्षा में खुलासे के बाद दोषी अधिकारियों और कर्मचारियों को पद से मुक्त करने की मांग की है।

सरकार में नैतिकता और ईमानदारी बजा है तो परीक्षा की जांच तुरंत सीबीआई को सौंपी। रीट 2021 प्रकरण में सरकार बदनाम हो चुकी है। बड़े मगरमच्छ को बचाने की कोशिश हो रही है। जिन्होंने युवाओं के सपनों को थोड़ा, उनको सजा मिलनी चाहिए।

सतीश पूनिया, प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा

यह साफ हो गया है कि रेट में बड़े स्तर पर डाली हुई है। तत्काल सीएम जांच सीबीआई को सौंपी। ऊंचे पदों पर बैठे लोगों की मिलीभगत के बिना पेपर लीक नहीं हो सकता। जारोली ने गैर सरकार व्यक्ति को कोऑर्डिनेटर बना दिया। परीक्षा की पवित्रता भंग हुई।

राजेंद्र राठौड़, उप नेता प्रतिपक्ष, विधानसभा

एक तरफ जहां रीट 2021 फर्जीवाड़े की खबरें चर्चा में है तो वहीं दूसरी ओर एडिशनल विषय के अभ्यर्थी आवेदन प्रक्रिया में शामिल नहीं हो पा रहे हैं। परीक्षा की बहुत सालों से तैयारी कर रहे हैं करीब 5000 बेरोजगार परीक्षा में शामिल तो हुए लेकिन जब भर्ती आवेदन की प्रक्रिया चल रही है तो वह इसमें अप्लाई नहीं कर पा रहे हैं। बेरोजगार एडिशनल डिग्री धारी है। 32000 पदों पर शुरू की गई आवेदन प्रक्रिया से इन अभ्यर्थियों को बाहर निकाल दिया गया है जिसके चलते अब यह मंत्रियों और अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं।

सोशल मीडिया पर रीट 2021 को लेकर खबर

साथ ही यदि सोशल मीडिया की बात की जाए तो ट्विटर के माध्यम से इस भर्ती की सीबीआई जांच को लेकर मांग बढ़ रही है एवं कुछ अभ्यर्थियों द्वारा इस भर्ती को निरस्त नहीं करने एवं इसके पद बढ़ाकर 50,000 करने की मांग की जा रही है। 9 फरवरी 2022 को विधानसभा का घेराव भी करने का कहीं लोगों द्वारा दावा किया जा रहा है।

वासुदेव देवनानी के द्वारा किया गया ट्वीट

यदि आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

जनवरी 2022 की सभी खबरों को नीचे दी गई लिंक से आप पढ़ सकते हैं