Join Telegram Group (18k members) यहाँ क्लिक करें और जुड़िये
Instagram @reet.bser2022 अभी फॉलो कीजिए

REET 2021 – 27 जनवरी 2022 की सभी खबरें,reet paper leak news

दैनिक भास्कर में रीट 2021 को लेकर ताजा खबर

Satish Poonia ओर Rajendra Rathod द्वारा CBI जांच की मांग

REET-2021 परीक्षा का पेपर शिक्षा संकुल के स्ट्रॉन्ग रूम से लीक होने के पुलिस स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप के खुलासे के बाद मामले पर राजनीति तेज है। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां और उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ द्वारा रीट 2021 भर्ती में हुए फर्जीवाड़े का पता लगाने के लिए  सीबीआई जांच की मांग की हैं । प्रदेश में होने वाली हर भर्ती परीक्षा में पेपर आउट करवाने वाला संगठित गिरोह पनप गया है। पहले भी साबित हो चुका है कि पेपर माफियाओं के सत्ता में बैठे राजनीतिक आकाओं के साथ घनिष्ठ संबंध हैं, जो पेपर लीक कर बेरोजगार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

सतीश पूनीया द्वारा किया गया ट्वीट –

इसमे साफ कहा गया हैं “अब सीबीआई जाँच इसलिए ज़रूरी हो जाती है कि राज्य सरकार बड़े मगरमच्छों को बचाने की पुरज़ोर कोशिश करेगी, अतः निरपेक्ष जाँच ज़रूरी हैl अब देखना है नैतिकता की दुहाई देने वाले मुख्यमंत्री जी इस प्रकरण को सीबीआई को कब सौंपते हैं?”

इसमे साफ कहा गया हैं – “शिक्षा संकुल के पेपर संग्रहण केन्द्र से एक दिन पूर्व पेपर निकाल दिये जाने की स्वीकारोक्ति के बाद तो यह पूर्णतया प्रमाणित हो गया है कि परीक्षा में भारी धांधली हुई है और यह सब अशोक गहलोत जी की सरकार के संरक्षण के बिना संभव ही नहीं थाl

विधानसभा में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ द्वारा किया गया tweet

इस ट्वीट में उन्होंने कहा हैं की – एसओजी द्वारा जयपुर स्थित शिक्षा संकुल से #REET भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने की बात की स्वीकारोक्ति से स्पष्ट है कि रीट परीक्षा में बड़े स्तर पर धांधली हुई है। अब तो मुख्यमंत्री
@ashokgehlot51 जी को तत्काल प्रभाव से रीट प्रकरण की जांच सीबीआई को सौंपनी चाहिए।

राजस्थान पत्रिका में रीट 2021 को लेकर ताजा खबर

एटीएस एसओजी के अतिरिक्त महानिदेशक अशोक राठौड़ ने बताया कि एसओजी ने रीट परीक्षा पेपर आउट प्रकरण में मुख्य आरोपी भजनलाल को पूर्व में गिरफ्तार किया था।

भजनलाल से अनुसंधान करने पर सामने आया कि रीट का पेपर भजनलाल विश्नोई को चितलवना जालौर निवासी उदाराम विश्नोई द्वारा गिया गया था। पुलिस ने पूछताछ की तो सामने आया कि उदाराम को त्रिवेणी नगर गोपालपुरा निवासी रामकृपाल मीणा ने शिक्षा संकुल जयपुर में स्थित पेपर संग्रहण केन्द्र से परीक्षा से पहले 25 सितंबर 2021 को ही पेपर निकालकर दिया गया था।

एसओजी उदाराम और रामकृपाल मीणा से पूछताछ कर रही हैं। इस प्रकरण से जुड़े गिरोह के अन्य आरोपियों और लाभार्थियों से जानकारी प्राप्त की जा रही हैं। गौरतलब है कि इस प्रकरण में अब तक 35 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका हैं। पुलिस पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ कर रही हैं।

रीट 2021 का पेपर सबसे पहले कहाँ से leak हुआ था

  • भजनलाल को उदाराम ने रीट पेपर दिया था। दोनों जालौर में एक ही गांव के रहने वाले हैं।
  • भजनलाल ने पेपर मिलने के बाद कई लोगों को बांट दिया।
  • रामकृपाल मीणा ने ही शिक्षा संकुल के पेपर स्टोरेज सेंटर से परीक्षा से पहले 25 सितंबर 2021 को पेपर निकालकर उदाराम विश्नोई को दिया था।
  • इसके बदले उदाराम विश्नोई की ओर से 1 करोड़ 22 लाख देने की जानकारी सामने आई है।
  • आरोपी रामकृपाल मीणा जयपुर में शिवशक्ति पब्लिक स्कूल चलाता है। इससे पहले भी रामकृपाल मीणा की ओर से कई प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक करने की जानकारी भी मिली है।
  • इससे पहले भी रामकृपाल मीणा द्वारा कई प्रतियोगी परीक्षाओं के पेपर लीक करने की जानकारी के लिए एसओजी पूछताछ कर रही हैं।

सोशल मीडिया पर रीट 2021 को लेकर ताजा खबर

यूजर Adv. Roshan Mundotia का ट्वीट

यूजर MANI का ट्वीट

यूजर Prakash Bamaniya का ट्वीट पेपर रद्द करना कोई Permanent Solution नहीं है; रीट के जितनी जाँच आजतक किसी पार्टी ने नहीं करवाई राजस्थान में। हम दोष भले ही दें लेकिन अगर जाँच नहीं करवाते तो ये हमें पता चल पाता? सब बाहर होंगे और होने भी चाहिए।

अन्य खबरों की अपडेट के लिए आप इस वेबसाईट पर विजिट करें ।

आपको यह पोस्ट कैसी लगी, यह आप हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करके कमेंट सेक्शन के माध्यम से बता सकते हैं.

साथ ही अगर आप जनवरी 2022 की रेट की सभी खबरों को एक साथ पढ़ना चाहते हैं तो नीचे दी गई लिस्ट पर दी गई लिंक को उसके माध्यम से प्रत्येक दिनांक को रीट 2022 एवं रीट 2021 को लेकर प्रकाशित खबरों को एक साथ पढ़ सकते हैं.