Join Telegram Group (18k members) यहाँ क्लिक करें और जुड़िये
Instagram @reet.bser2022 अभी फॉलो कीजिए

REET 2021- 23 जनवरी 2022 की सभी खबरें

Read Now

दैनिक भास्कर में रीट 2021 को लेकर ताजा खबर

REET पेपर लीक करने वाले से कुछ भी मालूम नहीं चला पा रही SOG

रीट भर्ती परीक्षा में गिरफ्तार मुख्य आरोपी भजनलाल बिश्नोई सही एसओजी 10 दिन बाद भी कुछ पता नहीं कर सकी है। बार-बार अपना बयान बदल कर भजनलाल अपनी बात कर रहा है। भजनलाल से जब पूछा जाता है कि रेट पेपर के बारे में तुमको क्या पता है तो वह अपने रिश्तेदार का नाम ले रहा है तो कभी किसी जान पहचान के लोग का।

प्रारंभिक पूछताछ सख्ती से किए जाने पर सामने आया कि भजनलाल ने एक दिन पहले ही गंगापुर सिटी में व्हाट्सएप पर दोपहर 3:45 बजे पेपर भेज दिया था और उसके बाद परीक्षा सेंटर में प्रिंटर से प्रिंट लेकर पेपर अपने परिचितों और जिसे पेपर बेचा गया था उनको वितरित कर दिए गए ,

आपको बता दें कि भजनलाल ने रेट के पेपर करीब 8 से ₹10 लाख में बेचा थे।

खबरों की माने तो राजस्थान पुलिस अभी तक भजनलाल से या नहीं पता कर पाई है कि पेपर किसे और किसके कहने पर इसने लीक किया था। पूछताछ में सामने आया कि भजनलाल ने पृथ्वीराज को पेपर दिया और पृथ्वीराज ने बत्तीलाल को, और इस वारदात को अंजाम पेपर के एक दिन पहले दिया गया था। वही बता दें कि भजनलाल के पास 25 सितंबर 2021 को पेपर पहुंच गया था 1 दिन पहले।

लेकिन ट्विटर पर एक्सपर्ट्स की मानें तो इस प्रकरण का मुख्य दोषी बत्तीलाल को बताया जा रहा है। क्योंकि जिस पेपर का खुलासा मैं बत्ती लाल मीणा का नाम आया था अभी वह नाम पूरी तरीके से गायब हो चुका है।

आप नीचे दी गई पेपर कटिंग में इस खबर को विस्तृत रूप से पढ़ सकते हैं

राजस्थान पत्रिका में रीट 2021 को लेकर ताजा खबर

परीक्षा के एक दिन पहले हुए थे रीट पेपर प्रिन्ट ओर अपने रिश्तेदारों को बाँट दिए गए

राजस्थान पत्रिका की खबर के अनुसार रीट के पेपर के मामले में शुक्रवार को बड़ा खुलासा हुआ, रीट के 2021 के पेपर को गंगापुर सिटी में 1 दिन पहले ही स्कूल सेंटर पर खोल दिया गया तथा इसकी प्रिंटर की सहायता से अनेक कॉपियां निकाली गई, आपको जानकारी नहीं होगी लेकिन रीट लेवल वन और रीट लेवल टू दोनों पेपर एक्सपर्ट्स को बुलाकर हल करवाए गए,

जैसा की दैनिक भास्कर की खबर में लिखा हुआ है कि पेपर परीक्षा से 1 दिन पहले ही प्राप्त हो चुका था, ऐसी स्थिति में लगभग 4:00 बजे के बाद विषय विशेषज्ञों के द्वारा विभिन्न भागों को हल करवाया गया एवं आंसर की के साथ इस पेपर को भजनलाल विश्नोई के दोस्तों एवं रिश्तेदारों को बांट दिया गया।

भजनलाल विश्नोई को राजस्थान पुलिस के विशेष दल ने 27 जनवरी 2022 तक रिमांड पर लिया है, साथ ही नवीनतम खबर की बात करें तो इसमें भजनलाल बिश्नोई बार-बार प्रिंटर से पेपर प्रिंट करने के बाद को पेश कर रहा है। ऐसे में यह देखने के बात होगी कि कि आखिर रीट का पेपर ली करने के पीछे आखिर बत्ती लाल मीणा का हाथ था या फिर भजनलाल बिश्नोई का।

आप नीचे दी गई पेपर कटिंग में इस खबर को विस्तृत रूप से पढ़ सकते हैं

दैनिक नवज्योति में रीट 2021 को लेकर ताजा खबर

दो दिन का रिमान्ड हुआ खत्म , पेपर लीक का कुछ पता नहीं

दैनिक नवज्योति की खबर के अनुसार, भजन लाल मीणा को 27 जनवरी 2022 तक रिमांड पर लिया गया है। सोशल ऑपरेशन ग्रुप की टीम रीट भर्ती पेपर लीक मामले का 7 दिन के अंदर खुलासा कर देगी ऐसा दावा किया जा रहा है। टीम गिरफ्तार मुख्य सरगना भजनलाल विश्नोई समेत अन्य दो लोगों से लगातार पूछताछ कर रही है और बताया जा रहा है कि पेपर के संबंध में उन्होंने अहम सुराग एसओजी को प्रदान किए हैं। इन सभी तथ्यों का टीम मिलान कर रही है और जल्दी ही गिरोह से जुड़े हुए 33 लोगों के अलावा अन्य लोग भी गिरफ्त में होंगे और पूरे मामले का खुलासा हो जाएगा। सादगी एसओजी की खबर के अनुसार यदि आवश्यकता पड़ती है तो पूर्व में गिरफ्तार आरोपियों से आमने-सामने और पूछताछ करवाई जा सकती है। जानकारी के अनुसार हाल ही में एसओजी ने दो लोगों से बात की थी। 26 सितंबर से गंगापुर सिटी में सेंटर से पेपर लीक होने के बाद एसओजी मामले की जांच करते हुए आरोपियों के पीछे लगी हुई है। बत्ती लाल मीणा के गिरफ्तार होने के बाद से इनका नाम सामने आया था इसके बाद से ही अलग-अलग जगहों पर एसओजी दबाव बना रही थी। दोनों पेपर लाखों रुपए में भेजें गए थे।

गंगापुर सिटी के अलावा यह पेपर बाड़मेर और जालौर में भी बेचे गए थे इस बात का भी खुलासा हुआ है।

विस्तृत जानकारी के लिए आप नीचे दी गई अखबार की कटिंग को जरूर पढ़ें।

REET 2021- 50,000 पद करने को लेकर विकास जाखड़ के पुत्र ओर माताजी भी धरने पर

रीट 2021 भर्ती को लेकर सोशल मीडिया पर आंदोलन तेज हो गया है। पिछले कुछ दिनों से शौर्य चक्र विजेता विकास जाखड़ धरने पर थे, जो की रेट के पदों को बढ़ाकर 50,000 करने की मांग पर अड़े हुए हैं। वही राजस्थान बेरोजगार संघ के युवा नेता उपेन यादव द्वारा भी रेट के पदों को बढ़ाकर 40000 करने की मांग की जा रही है। ऐसे में विकास जाखड़ के पुत्र और उनकी माताजी ने भी इस आंदोलन में भाग लेने का प्रण लिया है। एवं झुंझुनू से आई खबर के अनुसार अब इनके 12 वर्षीय पुत्र एवं माताजी धरने पर बैठेंगे।

जिले के जाखड़ ओं का रेड के अलावा अनेक परीक्षाओं में धांधली को लेकर सीबीआई से जांच करवाने की मांग को अब तूल मिल चुका है। पिछले 5 दिनों से आमरण अनशन पर चल रहे विकास जाखड़ का 12 वर्षीय पुत्र खुशवंत एवं उनकी दादी संतोष धरने पर बैठ गई है। विकास जाखड़ की तबीयत खराब होने के कारण वे वर्तमान में अस्पताल में एडमिट है। उनके पुत्र जब तक धरने पर बैठे रहेंगे तब तक की मांगों को स्वीकार नहीं गया था और उनके पिता को स्वस्थ अस्पताल से वापस नहीं बुलाया जाएगा। आमरण अनशन पर होने के कारण विकास की तबीयत खराब हो गई थी इसीलिए उनको शुक्रवार को झुंझुनू के अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया था।

धरना स्थल पर ईमरता एवं सुमित शर्मा धरने पर बैठ गए , पुलिस ने कोविड-19 प्रोटोकॉल की पालना करते हुए धरना देने की अनुशंसा की है, इसके साथ धरना स्थल सीज करने की भी बात कही है। वही एफएसआई ने जिला कलेक्ट्रेट के समक्ष प्रदर्शन किया एवं नारेबाजी की।

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी किया गया FAQ- जानिए बोर्ड द्वारा दिए गए आपके सवालों के जवाब

बोर्ड द्वारा जारी किए गए निर्देश इस खबर से आप पूरी तरीके से पढ़ सकते हैं शादी आप पीडीएफ भी डाउनलोड कर सकते हैं.

reet counselling 2021 , reet 2022 counselling को लेकर बोर्ड द्वारा जारी निर्देश –

RPSC में इंटरव्यू को लेकर ताजा अपडेट

RPSC: भर्तियों में साक्षात्कार समाप्त नहीं हुआ तो विधानसभा का घेराव

आरपीएससी भर्तियों में साक्षात्कार को लेकर पिछले कुछ दिनों से विरोध हो रहा है। इसको लेकर आज बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने जानकारी दी है कि यदि साक्षात्कार खत्म नहीं होगा तो विधानसभा का घेराव किया जाएगा।

साक्षात्कार समाप्त करने के जवाब में सरकार ने कहा था कि यह राज्य सरकार का नीतिगत निर्णय है सरकार जाए तो उसे समाप्त भी कर सकती है।

जबकि सवाल यह खड़ा होता है कि आयोग एक संवैधानिक निकाय होने के नाते राज्य सरकार को साक्षात्कार प्रक्रिया समाप्त करने के लिए अनुशंसा करने में पीछे क्यों काट रहा है। जबकि साक्षात्कार में नवाचार के नाम पर इसे बनाए रखना चाहते हैं। उपेन यादव ने कहा कि भर्तियों में साक्षात्कार के अंगों का बेटे ज्यादा होने के कारण कई बार पैसे के बलबूते पर लिखित परीक्षा में कम अंक वाले अभ्यर्थी भी साक्षात्कार में अधिक अंक प्राप्त करके मेहनती कैंडिडेट के सपनों पर पानी फेर देते हैं।

उपेन यादव ने कहा कि r.a.s. घूस कांड को 1 साल का समय बीत गया लेकिन अभी तक आरोपियों पर कार्यवाही नहीं की गई।

अधिक जानकारी के लिए आप इस कटिंग को पढ़ सकते हैं

सोशल मीडिया पर reet के पद बढ़ाने को लेकर आंदोलन तेज

सोशल मीडिया अकाउंट पर विभिन्न लोगों के द्वारा एवं जी राजस्थान के द्वारा भी रेट के 50000 पदों को बढ़ाने को लेकर जो आंदोलन चल रहा है उसकी खबर प्रकाशित की गई है। कन्हैयालाल हरितवाल नामक वेरीफाइड अकाउंट से भी रेट को लेकर भरतपुर में निकली गई, रैली के बारे में कहा गया है।

जिले में मंत्रियों पर दबाव की रणनीति बनाए जाने बेरोजगार बजट सत्र निकट होने पर कुछ फैसला करने जैसे कुछ बात इस ट्वीट में कही गई है,

इसी इसी ट्वीट को डूंगर सिंह नामक वेरीफाइड अकाउंट से भी ट्वीट किया गया है।

https://twitter.com/juhi0078/status/1484784887840215040

रीट 2021 से जुड़ी हुई प्रत्येक खबर को रोजाना पढ़ने के लिए आप इस वेबसाइट को विजिट कर सकते हैं,

यदि आपने रीड की काउंसलिंग अभी तक नहीं करवाई है तो आप निम्न पोस्ट को पढ़ सकते हैं

रीट 2021 जनवरी की खबरें पढ़ें